मुरही के लाई, लरुवा बनाने की विधि

Murhi ki lai
Murhi ki lai

मुरही के लाई बनाने की विधि अथवा मुरही के लाइ अथवा लरुवा बनाने की विधि

बिहार के लगभग सभी जगहों पर यह मुरही का लाई बनाई जाती है , और कुछ दूसरे नाम से भी इसको जानते है जैसे की, लाई, लाइ , लरुवा , लडुवा, लड्डु इत्यादि। ..

१. पहिले आप अपने आवश्यकता के अनुसार ताजा मुरही को एक बर्तन में लीजिये।
२. फिर ताजा शुद्ध गुड़ या जागरी अपने आवश्यकता के अनुसार लीजिये और फिर २ कप सादा पानी कड़ाई में डालकर मीडियम आँच पर १० मिनट तक चाशनी बनने तक पकाइये।
३. फिर आप जाँच करिये की चाशनी तैयार है या नहीं, बने हुए चाशनी के कुछ बूंद को ठन्डे पानी में गिराइये और जब वह चाशनी के बूंद पानी में तैरने लगे तो समझिए आपका गुड़ का चाशनी तैयार है।
४. फिर तैयार चाशनी को कुछ देर ठंडा होने दीजिये , जब कुछ गर्मी बची रहे तब उसमे ताजा मुरही को डालकर अच्छे तरीके से बर्तन में मिलाकर लरुवा या लाई बनाने की तैयारी करिए।
५. अब आप उस मिले हुए गुड़ और मुरही के चाशनी को अपने हाथों से गोलाकार रूप देते हुए मुरही का लाई अथवा लरुवा बनाते जाना है और किसी सूखे बर्तन में तैयार किये हुए लाई को रखना है , आपका लरुवा अथवा लाई तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *